आगरा एसएन मेडिकल कॉलेज में मिली एक वृद्ध की लाश

Please Share This link

आगरा का एसएन मेडिकल कॉलेज एक बार फिर से सवालों के घेरे में आ गया है। दरअसल मेडिकल कॉलेज में कुछ दिन पहले 07 फरवरी को इलाज कराने आया एक बुजुर्ग मरीज अस्पताल की इमारत से ही अचानक लापता लापता हो गए थे। और आज 6 दिन बाद एसएन मेडिकल कॉलेज की उसी इमारत के बेसमेंट में ही उनकी लाश मिलने से सनसनी फैल गयी , इस मामले में परिवारीजनों ने यह भी आरोप लगाया है कि यह सरासर अस्पताल प्रशासन की लापरवाही है।

 

आपको बता दें कि एसएन मेडिकल कॉलेज के प्रांगण में ही एक सात मंजिला इमारत है जिसमें जांच आदि का कार्य होता है। यहां बेसमेंट भी बना हुआ है। एत्माउद्दौला क्षेत्र के 70 वर्षीय वृद्घ देव चंद झा का इलाज यहां चल रहा था। हर बार की तरह वो कुछ दिन पूर्व विगत 7 फरवरी को अपने आपको दिखाने के लिए इस इमारत में आये , अस्वस्थ व शारीरिक रूप से कमजोर होने के चलते वह इस इमारत की दूसरी मंजिल तक ही पहुंच पाए। उसके बाद उनकी पुत्रबधू ने उनको वंही बैठा दिया। और तीसरी मंजिल पर डॉक्टर के पास पर्ची लगाने के लिए चली गईं, । लेकिन जब वह वापस आयीं तो वहां पर उनके पिता विद्यानंद झा मौजूद नहीं थे। इसके इसके बाद उन्होंने अपने परिजनों को सूचित किया। तत्काल में सभी प्रभारी जन एसएन मेडिकल कॉलेज पहुंच गए और उनकी तलाश शुरू की लेकिन घंटों की तलाश के बाद भी बुजुर्ग मरीज का कंही पता नही चला । काफी खोजबीन के बाद परिजनों ने स्थानीय थाना एमएम गेट को सूचना दी और उसके बाद अस्पताल प्रशासन से अपने बुजुर्ग पिता को ढूंढने के लिए गुहार लगाई। इस दौरान पुलिस ने भी एसएन मेडिकल कॉलेज में कई जगह खोजबीन की लेकिन बुजुर्ग का की सुराग नही लगा । परिजनों के अनुसार। इस दौरान उन्होंने कई बार एसएन मेडिकल कॉलेज प्रशासन को सीसीटीवी के माध्यम से खोजने की अपील की लेकिन प्रशासन ने लापरवाही दिखाते हुए उनकी कोई मदद ना करते हुए कोरा आश्वासन ही देते रहे। लेकिन परिजनों ने अपने बुजुर्ग मरीज की तलाश बंद नहीं की। और नतीजन लगातार तलाश के बाद आज जब परिवारीजन इसी इमारत के उस बेसमेंट में पहुंचे जहां कोई भी आजाद आता जाता नहीं है। उस जगह उनके पिता 70 वर्षीय बैद्यनाथ झा की लाश मिली। परिवारीजनों को ताज्जुब इस बात का है कि जो पिता चल फिर नहीं सकते हैं। वह इमारत के बंद पड़े बेसमेंट में कैसे पहुंचे, इसके साथ ही उन्होंने अस्पताल प्रशासन पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए यह तक कह दिया कि एसएन मेडिकल कॉलेज में मानव तस्करी का गैंग चल रहा है। जिसने इस घटना को अंजाम दिया है। यही नही उन्होंने अस्पताल प्रशासन से जांच की मांग करते हुए साथ ही 20 लाख रुपए मुआवजे की भी मांग की । फिलहाल मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। सूत्रों के मुताबिक पिछले तीन दिनों से बेसमेंट का ताला लगाकर कर्मचारी फरार थे। फिलहाल पुलिस पूरे मामले की जानकारी कर रही है। वंही एसएन मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य का कहना है कि उन्होंने इस मामले में एक जांच कमेटी गठित कर दी है। जो दो दिन के भीतर उनको एक रिपोर्ट सौंपेगी , साथ ही उन्होंने कहा कि इस मामले में जो भी दोषी होगा उस पर कार्रवाई की जाएगी। वह मृतक परिवार के साथ हैं।

 

बहराल एसएन मेडिकल कॉलेज वैसे तो किसी ना किसी मामले को लेकर सुर्खियों में रहता ही है। लेकिन इस बार इलाज के लिए आये बुजुर्ग की लाश मिलने से पूरा एसएन मेडिकल कॉलेज प्रशासन सवालों के घेरे में आ गया है। अब देखने वाली बात होगी कि इस मामले मे गठित हुई जांच खुद एसएन मेडिकल कॉलेज की जांच कमेटी इस सब मैं किसे दोषी पाती है .. ?

Please Share This link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *