कोविड मरीजों के लिए अलग से 200 बैड का हास्पिटल बनाया गया

Please Share This link

 

इटावा- सैफई कोरोना वायरस की गंभीरता को देखते हुए विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. डा. राजकुमार ने कोविड-19 मरीजों के लिए अलग से 200 बेड का हास्पिटल बनाने का निर्देश अस्पताल प्रशासन को दिया। यह विशेष अस्पताल पुराने इमर्जेंसी ब्लाक में बनाया गया है। इसके अलावा ओपीडी के ऊपर 284 बेड का आइसोलेशन वार्ड भी बनाया गया है। यह जानकारी कोविड-19 के लिए बनाये गये अलग हास्पिटल तथा 284 बेड के आइसोलेशन वार्ड के निरीक्षण के दौरान कुलपति प्रो0 राजकुमार ने दी।
कुलपति डा. राजकुमार ने बताया कि कोवडि-19 मरीजों के लिए बनाये गये 200 बेड के हास्पिटल में 20 बेड वेन्टिलेटर के साथ होंगे साथ ही जरूरी समस्त जाॅचे जिसमें एक्सरे, अल्ट्रासाउंड, डायलिसिस आदि उपलब्ध हैं। विशेष परिस्थिति में जरूरी सर्जरी के लिए भी सभी व्यवस्थायें की गयी हैं। उन्होंने बताया कि विश्वविद्यालय के गेट नं-2 के निकट कम्युनिटी मेडिसिन विभाग द्वारा करोना जागरूकता हेतु नियमित जानकारी दी जा रही है। ट्रामा व इमर्जेसी के गेट पर भी एलसीडी के माध्यम से करोना के सम्बन्ध में जानकारी दी जा रही है। साथ ही गेट नं-2 पर स्थित कैफेटेरिया को अस्थायी रूप से खत्म करके करोना जाॅच केन्द्र, सामान्य फ्लू, जुकाम एवं बुखार ओपीडी तथा ट्राएज का निर्माण अलग-अलग सेक्सन में किया गया है। इसके अलवा सबसे जरूरी यह है कि यह बीमारी कम्युनिटी ट्रान्सफर से तेजी से फैलती है इसलिए कम से कम एक मीटर की दूरी से ही बात करें। नियमित रूप से हाथों की सफाई करें। खाॅसी बुखार तथा साॅस फूलने पर तुरन्त चेक करायें। इस दौरान प्रतिकुलपति डा. रमाकान्त यादव, संकायाध्यक्ष डा. आलोक कुमार, चिकित्सा अधीक्षक डा. आदेश कुमार, प्रशासनिक अधिकारी उमाशंकर, सहायक अभियन्ता केपी सिंह यादव, कम्प्यूटर प्रोग्रामर राजेश बसनेट, जनसम्पर्क अधिकारी अनिल कुमार पांडेय मौजूद रहे।

नितेश प्रताप ब्यूरो इटावा

Please Share This link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *