महाराजगंज : विद्युत विभाग की लापरवाही, चाय की दुकान में मिला बिजली बकाया की 300 सौ प्रति बिल

Please Share This link

महाराजगंज : विद्युत विभाग की लापरवाही, चाय की दुकान में मिला बिजली बकाया की 300 सौ प्रति बिल

महाराजगंज : बहुत ही आश्चर्य की बात है बिजली विभाग की घोर अनिमित्ता देखने को मिला हद तो तब हो गया जब नौतनवां में स्थित एक चाय की दुकान में हर माह बिजली का बिल डोर टू डोर जाकर निकालने वाले विद्युत विभाग के चार कर्मचारी चाय की दुकान में ही बैठकर बिजली बिल निकाल रहे थे जमीन पर लगभग 300 सौ प्रति बिजली का बिल पड़ा हुआ था। बताते चलें कि नौतनवा विद्युत विभाग की घोर अनियमितता बीते शनिवार को दोपहर लगभग एक बजे नौतनवां स्थित बाईपास पर एक चाय की दुकान पर देखने को मिला चाय की दुकान में बैठकर टेबल बिलिंग निकालने वाले चार लोग अपने अपने मशीन से बिल निकाल कर जमीन पर फेंक रहे थे जिसमें मार्च महीने का बिल अधिक दिख रहा था उसी चाय की दुकान पर विद्युत विभाग का एक और कर्मचारी जब चाय पीने पहुंचा तो उसे देखकर बिल निकाल रहे चारों लोग बिल छोड़कर अपनी अपनी मशीनें लेकर भाग गये मौके पर पहुचे विद्युत कर्मचारी ने घटना की जानकारी उच्च अधिकारियों को दिया और जमीन पर पड़े सभी बिजली बिल को समेट कर उठा लाया और सुरक्षित अपने पास रख लिया है चाय की दुकान में इस तरह की घटना की जानकारी जब आम हुई तो मामले की छानबीन में मामला सत्य पाया गया अब सवाल यह उठता है की बिल निकालने वाले आखिर क्यों बिल उपभोक्ताओं के घर नहीं दिये और कैसे एक चाय की दुकान में बैठकर बिल निकाल रहे थे कैसे इन लोगों को पता था की किस उपभोक्ता के घर कितना यूनिट मीटर चला है यह विद्युत विभाग की बहुत बड़ी लापरवाही है मामले की जांच अगर उचस्तरीय अधिकारियों से कराया जाये तो बहुत बड़ा घोटाले का खुलासा हो सकता है। मिली जानकारी के अनुसार पुरे उत्तर प्रदेश में टेबल बिलिंग के लिए बैंगलौर की कम्पनी BCITS ने बिल निकालने के लिये ठेका ले रखा है और लोकल के लोगों को रखकर बिजली बिल डोर टू डोर निकालवाने का काम करती है जो एक कर्मचारी को पांच हजार से आठ हजार रुपये प्रतिमाह वेतन देती है लेकिन बिल निकालने वाले अपनी ही कम्पनी और उपभोक्ता के साथ साथ सरकार को भी चूना लगा रहे है। मिली जानकारी के मुताबिक नौतनवां तहसील क्षेत्र में लगभग 53000 हजार विद्युत उपभोक्ता हैं BCITS कम्पनी उपभोक्ताओं से बिल निकालने के लिए प्रति उपभोक्ता से हर माह 12 रुपया लेती है सात रुपया कम्पनी ले लेती है और पांच रुपया सरकार को देती है । इस संदर्भ में अधिशासी अभियंता विद्युत नौतनवां मनिराम यादव ने बताया की मामला संज्ञान में है मामलेे की जांच पड़ताल किया जा रहा है।

Please Share This link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

अन्य ख़बरें