हापुड़ विवादों में घिरी ग्राम पंचायत अटुटा में पहुंची जांच टीम

Please Share This link

हापुड़ : आखिर ये विकास है कहाँ शायद आप ये सोचकर हैरानी में होंगे कि आखिर ये बात क्यों कही जा रही है। अब आपका सोचना भी जाइज है क्योंकि जिस विकास को लेकर सरकारें दावा कर रही है कि सूबे में विकास हुआ है वहीं दूसरी तरफ तस्वीर धरातल पर कुछ और नज़र आ रही है अब ऐसे में सवाल तो बनता ही है कि आखिर विकास है तो है कहाँ ताज़ा मामला हापुड़ जिले की ग्राम पंचायत अटूटा का है जहां ग्राम प्रधान और सचिव पर ग्रामीणों ने ग्राम पंचायत के विकास के मिले पैसों को बंदरबांट करने का आरोप लगाया है प्रधान पति ने शिकायतकर्ता पर 2 लाख मांगने का भी आरोप लगाया है प्रधान पति का कहना था कि शिकायतकर्ता ने प्रधान पति से 2 लाख की मांग की थी जिसमें 10 हजार पहले भी चुका है उन्होंने बताया कि शिकायतकर्ता ने कहा है कि यदि आप मुझे 2 लाख देते हैं तो मैं अपनी शिकायत वापस ले लूंगा जिसमें 10 हजार की कबूली शिकायतकर्ता के पिता ने मीडिया के सामने की है उन्होंने कहा है कि अब अगर वह कोई और पैसे मांगे तो देने नहीं है और मेरा उससे कोई लेना-देना भी नहीं है ग्रामीणों का कहना है कि ग्राम प्रधान और सचिव ने कागजों में तो विकास खूब दिखाया है लेकिन ज़मीनी हकीकत कुछ और कहती है। जिसके चलते ग्रामीणों ने इसकी शिकायत उच्च अधिकारियों से की है और आज यहां जांच टीम जांच करने आईहै वहीं जब जांच टीम मौके पर पहुंची तो उन्होंने जांच तो की मगर वो खानापूर्ति ही करते नज़र आए।जिससे शिकायत कर्ता उनकी जांच से नाखुश है और उन्होंने जांच टीम पर भी मिलीभगत का आरोप लगा दिया हैशिकायत कर्ताओं का कहना है कि जांच टीम ने जांच खत्म होने के बाद हमें न तो कुछ बताया और मौके से ज़ल्दी ही चले गए है वहीं अब शिकायत कर्ताओं का कहना है कि वो इसके लिए अब और उच्च अधिकारियों से मिलेंगे तभी इसकी सही तरीके से जांच होगी।ग्रामीणों के द्वारा शिकायती पत्र देकर पांच सालों में ग्राम प्रधान के विकास कार्यों का ब्यौरा मांगा है जांच के दौरान विकास कार्यों में रास्ते व श्मशान घाट, शौचालय को लेकर जांच की गई जिसमें ग्राम प्रधान के द्वारा स्कूल का सौंदर्य करण, स्ट्रीट लाइट, शौचालय वही बच्चों के लिये तीन पार्क बनाकर उनका सौंदर्य करण किया गया है।

Please Share This link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

अन्य ख़बरें