Fecebook फ्रेंड बनाकर कैसे करती थी ब्लैकमेल, कितने लोग हुए इसका शिकार ये जानकर आप चकित रह जाएंगे

Please Share This link

आगरा । कैमरे के सामने दिखने वाली इस महिला का नाम शालिनी सोलोमन है और शालिनी के साथ में खड़ा यह युवक जिसका नाम आशु है। दरअसल सदर पुलिस ने आंसू और शालिनी सोलोमन दोनों को गिरफ्तार कर लिया है। और इनका एक साथी आशीष शर्मा भी पुलिस की गिरफ्त में आ गया है। अब इनका अपराध करने का तरीका भी सुन लीजिए। शालिनी फेसबुक पर फ्रेंड रिक्वेस्ट भेज दी है और यह फ्रेंड रिक्वेस्ट, जो असेप्ट कर लेता है। उससे फिर दोस्ती शुरू हो जाती है। फेसबुक के जरिए शालिनी युवक को अपने शिकंजे में फंसा लेती है।

और उसके बाद प्यार की मीठी मीठी बातें शुरू होती है । शालिनी के शिकंजे में फंसा युवक जब शालिनी के घर पहुंचता है तो शालिनी अपने कपड़े उतार कर आपत्तिजनक स्थिति में आ जाती है। इतने में आंसू, और आशीष शर्मा नाम के दो युवक शालिनी के पति और भाई बताते हुए उसकी वीडियो बना लेते हैं। फिर शुरू होता है ब्लैकमेलिंग का तरीका। युवक से धड़ाधड़ रकम वसूली जाती है। उसे ब्लैकमेल किया जाता है। और ऐसा करने वाला यह गैंग अब तक कई लोगों को शिकार बना चुका है। कुछ लोगों की शिकायत पर पुलिस ने इन तीनों अपराधियो को गिरफ्तार कर लिया है।

सबसे बड़ी बात है कि आशीष शर्मा पर ताजनगरी आगरा में 15 मुकदमे दर्ज है। जबकि शालिनी सोलोमन पर पांच और आंसू पर पांच मुकदमे दर्ज हैं। आशीष शर्मा कई बार जेल भी जा चुका है। थाना सदर पुलिस आशीष शर्मा से अब तक 100 बाइक बरामद कर चुकी है। मंगलवार को सीओ सदर विकास जैसवाल ने गैंग का खुलासा करते हुए पूरे घटनाक्रम से पर्दा उठाया है।

Please Share This link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *